ऊँची दूकान फिंके पकवान

भारतीय विज्ञापन मानक परिषद (ASCI) द्वारा पिछले महीनें जारी किए गए नए आंकड़ों नामों में देश विदेश के कई बड़ी दिग्गज कम्पनियों जैसे की एयरटेल, कोका-कोला, एप्‍पल, समेत कई कंपनियों के विज्ञापनों पर ऐतराज जताया है। ASCI का कहना है की इनके विज्ञापन भ्रामक हैASCI ने ज्‍यादातर विज्ञापनों को गुमराह करने वाला बताया है जनवरी में जारी हुए 143 कंपनियों को ऐसे ऐड जारी करने के लिए ASCI फटकार भी लगाई है।
ASCI की ग्राहक शिकायत परिषद (CCC) को 191 से भी ज्‍यादा शिकायतें आईं थी। अमूल, निविया, मोबिक्विक, स्‍टैंर्ड्ड चार्टर्ड बैंक, एचयूएल, परनॉड रिकॉर्ड एवं ओपरा, सहित अन्‍य कई बड़े नामों वाली कंपनियों के विरुध ग्राहकों ने ये सारी शिकायतें दर्ज करवाई थी। ASCI ने जहां हेल्‍थकेयर प्रोडक्ट से जुड़ी 102 शिकायतों को सही माना। वहीँ फूड व बेवरेजेस में 6 पर्सनल केयर से संबंधित 7 एवं शिक्षा से जुड़ी 20 शिकायतों को सही माना। साथ ही 8 एडवर्टाइजमेंट को भी गुमराह करने वाला पाया।
ASCI ने कोका कोल इंडिया द्वारा थम्स अप के प्रचार में एक बाइक सवार को सड़कों पर लोगों के बीच करतब करते हुए दिखाया है। ASCI के मुताबिक कंपनी का ये प्रचार खतरनाक कारनामे को प्रोत्साहन देता है।

ASCI फोन कंपनी एप्‍पल इंडिया को उसके प्रोडक्ट iPhopne7 के लिए गलत तस्वीर के द्वारा प्रचार करने का दोषी पाया। एप्‍पल इंडिया ने एप्‍पल iPhopne7 के विज्ञापन में iPhopne7 Plus को दिखाया था, यह लोगों को गुमराह करने वाला था। हालाँकि यह प्रोडक्‍ट एप्‍पल का ही था, मगर विज्ञापन जिस सामान विशेष का था उससे इसका कोई संबंध नहीं था। इससे यह समझ आता आता है कि यह ग्राहक को गुमराह करने वाला विज्ञापन है। हालांकि, इस संबंध में एप्‍पल की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गयी है।

ASCI ने यह माना कि डिस्‍क्‍लेमर में ऐसा प्रयास न करने की चेतावनी दी गई थी, लेकिन फिर भी यह खतरनाक था। और इस विज्ञापन से लापरवाही को बढ़ावा मिलता है।
वहीँ टेलिकॉम ऑपरेटर भारती एयरटेल के खिलाफ की गयी 3 शिकायतों को भी सही ठहराया गया। एयरटेल पर आरोप है की फ्री लोकल और एसटीडी कॉल्‍स के नाम पर उसने अपने ग्राहकों को गुमराह करने वाला विज्ञापन चलाया।
#हिंदी_ब्लोगिंग 

No comments